मुसलमान के भेष में थाने पहुँचा पुलिस कमिश्नर – जानिए क्या थी वजह

मुसलमान के भेष में थाने पहुँचा पुलिस कमिश्नर – जानिए क्या थी वजह

कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच जहाँ एक तरफ सरकार लोगों को ज्यादातर घरों में रहने की सलाह दे रही है, तो वहीँ पुलिस अफसरों की लगातार सड़कों पर ड्यूटी लगी हुई है. ऐसे में पुलिस कैसा काम कर रही है, इस बात को सही से परखने के लिए पुणे के पिंपरी चिंचवाड़ के कमिश्नर ने एक अनोखा कदम उठाया है.

दरअसल कमिश्नर कृष्ण प्रकाश का एक विडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों काफी चर्चा बटोर रहा है. विडियो की ख़ासियत यह है कि इसमें एक मुस्लिम व्यक्ति अपनी बीवी के साथ थाने में दिखाई दे रहे हैं. हैरत की बात यह है कि यह मुस्लिम व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि खुद कृष्ण प्रकाश जी हैं जोकि अपना हुलिया बदल कर पुलिस स्टेशन में हो रहे काम का जायजा लेने पहुंचे हैं. वह इस भेष में तीन अलग-अलग थानों में गए.

बताया जा रहा है कि उनके ऐसा करने के पीछे का कारण यह रहा था कि वह जानना चाहते थे आखिर इस महामारी और रमजान महीने में पुलिस आम जनता से किस तरह से पेश आ रही है. उनके साथ उनकी पत्नी भी पहुंची थी जोकि असल में एसीपी प्रेरणा कट्टे हैं. दोनों ने इस दौरान एक प्राइवेट कार से हिंजवडी, वाकड और पिंपरी के थानों में दस्तक दी. इस दौरान कमिश्नर कृष्ण ने चेहरे पर नकली दाढ़ी, सर पर नकली बाल, फैशनेबल शूज़ और मुस्लिम टोपी के साथ पीले रंग का कुर्ता और जींस पहन रखी थी.

तीनों थानों में पहुँच कर इस मियां-बीवी के जोड़े ने अलग-अलग FIR दर्ज करवाने के लिए झूठी कहानियां सुनाई. जब पुलिसकर्मियों ने उनकी कहानी सुन कर रिपोर्ट दर्ज करना शुरू किया तो उन्होंने अपना सच सबके सामने लाया. ऐसे में उनको अपने सामने देख कर हर पुलिसकर्मी हैरान था. हालाँकि इस दौरे के दौरान पिंपरी पुलिस के साथ उनका अनुभव ख़ास ठीक नहीं रहा था. कृष्ण के अनुसार यहाँ के पो,लिके जवानों को बात करने का सलीका नहीं था ऐसे में उन्हें कमिश्नर कृष्ण से अच्छी-खासी फटकार भी सुननी पड़ी.