किसानों पर पुलिस का लाठीचार्ज – ये लोकतंत्र या लठतंत्र ?
किसानों पर पुलिस का लाठीचार्ज – ये लोकतंत्र या लठतंत्र ?

किसानों पर पुलिस का लाठीचार्ज – ये लोकतंत्र या लठतंत्र ?

आज की तारीख को किसान शायद ज़िन्दगी भर ना भूल पाएँ। आज हरियाणा के कुरुक्षेत्र के पिपली में पुलिस ने किसानों पर लाठी चार्ज कर दिया। दरअसल किसान पीपली में आयोजित होने वाली महारैली में शामिल होने जा रहे थे जिस दौरान पुलिस ने किसानों पर लाठी चार्ज कर दिया। बता दें कि लाठीचार्ज के बाद रोष में आए किसानों ने भी पुलिस पर पत्थर बरसा दिए।

किसानों का कहना हैं कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि पर आधारित तीन अध्यादेशो को लागू करने के बाद आढ़तियों, मजदूरों और किसानों का रिश्ता खत्म हो जाएगा। जिसे किसान कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। किसानों को अपने विचार रखने के लिए कुरुक्षेत्र स्थित पीपली में महारैली में जाना था लेकिन पुलिस ने उन्हें अनाज मंडी से पिपली महारैली में नहीं जाने दिया।

लोकतंत्र में जनता की आवाज को लठतंत्र से दबाया नहीं जा सकता

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा नें इस घटना की निंदा करते हुए कहा की लोकतंत्र में जनता की आवाज को लठतंत्र से दबाया नहीं जा सकता। पूर्व CM हुड्डा ने कहा की लोकतंत्र में हर किसी को अपनी आवाज उठाने और कहीं भी जाने का अधिकार प्राप्त हैं। हुड्डा ने कहा की वो खुद कुरुक्षेत्र के पीपली में जाकर किसान और आढ़ती से बातचित करेंगे।