मंच पर रोने लगे राकेश टिकैत – कहा की मैं किसान को बर्बाद नहीं होने दूंगा

मंच पर रोने लगे राकेश टिकैत – कहा की मैं किसान को बर्बाद नहीं होने दूंगा

  28 Jan 2021  

आज भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश मंच पर फूट-फूट कर रोने लग गए। उन्होंने कहा कि सभी कानून वापस नहीं हुए तो वह आत्मह’त्या कर लेंगे। टिकैत ने कहा की मैं किसान को बर्बाद नहीं होने दूंगा। राकेश टिकैत ने कहा, “हम अपना धरना-प्रदर्शन जारी रखेंगे और सरकार से बातचीत होने तक साइट खाली नहीं करेंगे।

इससे पहले उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट जांच कराए लाल किए पर कौन थे? उनकी 2 महीने की कॉल रिकॉर्डिंग की जांच की जाए। उन्होंने कहा कि मैं सरेंडर नहीं करूंगा, वह किसी भी हिंसा के लिए जिम्मेदार नहीं है। राकेश टिकैत ने कहा की प्रशासन ने पानी और बिजली की आपूर्ति सहित बुनियादी सुविधाओं को हटा दिया है. अब जब तक हमारे गांव से पानी नहीं आएगा, पानी नहीं प‍ीयूंगा।

गौर करने वाली बात यह हैं कि 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) को दिल्ली के लाल किले में जो हुआ हैं उसे देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया ने देखा है। किसान आंदोलन की ट्रैक्टर रैली की आड़ में उपद्रवियों ने जमकर बवाल किया व तिरंगे का अपमान किया। बता दें कि इस सब के दौरान दिल्ली में 300 से भी ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए। लगभग डेढ़ महीने से चल रहें अहिंसक आंदोलन को हिंसक होते देख कई किसान नेताओं ने आंदोलन का साथ छोड़ दिया। वहीं पुलिस भी लगातार बॉर्डरस पर लोगों को जगह खाली करने को कह रही है।